विदेश में लाखों की नौकरी छोड़ भारत में कर रही है खेतीबाड़ी, जाने उत्तरप्रदेश की इस लड़की की कहानी!

भारत के ज़्यादातर युवाओं की सोच है कि वह जल्दी से अपनी पढ़ाई खत्म कर के विदेश में अच्छी नौकरी करें और ऐसा होता भी है। जब डिग्री मिल जाती है तो भारत का युवा विदेश काम करने के लिए चला जाता है। ऐसा बहुत कम होता है कि विदेश में जॉब लगने के बाद कोई उसको छोड़ भारत वापस आता है। हाल ही में एक लड़की ने ऐसा कर एक मिसाल खड़ी कर दी है। बता दें कि ये लड़की लखीमपुर खीरी जिले के नीमगांव इलाके के कोटरा गांव की रहने वाली है। जिसका नाम स्‍वाति पांडेय है। वह सिंगापुर में जॉब कर लाखों रुपए कमाती थी। लेकिन उन्होंने फिर भी अपनी नौकरी छोड़कर भारत में खेती बाड़ी करने का फैसला किया।

उन्होंने अपने इस फैसले के चलते किसानों की जिंदगी में मिठास घोल दी। बता दें कि उन्होंने भारत आकर अपनी एक टीम बनाई। जिसके साथ मिलकर उन्होंने लखीमपुर खीरी समेत आसपास के जिलों और दूसरे प्रदेशों तक मीठी तुलसी यानी स्टीविया (Natural Sweeteners) की खेती शुरू कर दी। इस दौरान उन्होंने अपनी खुद की एक कंपनी भी खोल ली। जिसका नाम ‘आरबोरियल’ है। यह कंपनी मीठी तुलसी यानी स्टीविया की पत्तियों से प्रोडक्ट्स बना रही है। बता दें कि स्‍वाति पांडेय के पिता का नाम अशोक कुमार पांडेय है। वह भारतीय वन अनुसन्धान संस्थान में साइंटिस्ट थे।


स्‍वाति का कहना है कि भले ही उन्होंने सिंगापुर और इंग्लैंड में नौकरी की है। लेकिन उनका पूरा ध्यान भारत लौटकर खुद का बिजनेस शुरू करने पर था। उन्होंने कहा कि “मुझे अपना बिजनेस करना है। ऐसा बिजनेस जो भारत में हो और किसानों की जिंदगी में कुछ मिठास ला सके और समाज के हितकारी के लिए भी हो।” आखिरकार हुआ वैसा ही जैसा वो चाहती थी। उन्होंने भारत आकर स्टीविया की खेती शुरू की। उन्होंने बताया कि इस नैचुरल स्वीटनर की देश-विदेश में बहुत डिमांड है। जिसके कारण उन्होंने ये काम करना पसंद किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

block id 7185 site indiahindinews.com - Mob_300x600px
block id 7184 site indiahindinews.com - PC_700x400px