इन देशों में मिलता है सबसे ज़्यादा सोना, यहाँ ख़’त्म हो रहा है पूरा सोना…

साल 2019 के आखिर में उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में कई हजार टन सोना मिलने की बात चली थी. बाद में जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने बताया कि खदान में सोना नहीं, बल्कि स्वर्ण अयस्क है, हालांकि इस बात से जीएसआई ने इनकार नहीं किया कि इलाके में सोना मिलने की संभावना हो सकती है. वैसे इस बीच वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट उन 10 देशों के बारे में बताती है जहां सबसे ज्यादा सोना है।

इस सूची में सबसे पहला नाम अमेरिका का है. वहां केंटुकी स्थित फोर्ट नॉक्स नामक जगह में कथित तौर पर लगभग 42 लाख किलो सोना रखा हुआ है. वैसे कई जगहों पर कहा जाता है कि यहां लगभग 8,133 टन रिजर्व है. इमारत को यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ ट्रेजरी देखता है. माना जाता है कि यहां पूरे अमेरिका का आधे से ज्यादा सोना रखा हुआ है. साल 1936 में इसे तैयार किया गया ताकि सोने का भंडार सुरक्षित रखा जा सके.


Gold
ज’र्मनी में दूसरे नंबर पर सोने का भं’डार माना जाता है, वहां लगभग 3400 टन सोना है. वहीं तीसरे नंबर पर इटली है, जिसके पास 2451 टन सोने का भं’डार माना जाता है. यहां के सेंट्रल बैंक में ये गोल्ड रिजर्व है, जिसे रिजर्व ऑफ सेफ्टी कहा जाता है. चौथे नंबर पर फ्रांस आता है, जिसके बैंक में 2435 टन सोना रखा हुआ है. वैसे तो यहां की आबादी रूस की एक-तिहाई है लेकिन रूस की बजाए यहां दोगुना सोना है. पांचवे नंबर पर चीन है, जिसके यहां लगभग 1797 टन गोल्ड रिजर्व है. लेकिन चीन की आबादी के लिहाज से देखें तो ये सोना काफी कम है।

रूस के पास 1,460 टन सोने का भंडार है. हालांकि इस पर लगातार बात होती रही है कि उसके पास रिजर्व इससे कहीं ज्यादा है. स्विट्जरलैंड वैसे तो सातवें स्थान पर है लेकिन पर कैपिटा के हिसाब से देखें तो इसके पास दुनिया में सबसे ज्यादा पैसे हैं. यहां के गोल्ड रिजर्व में 1040 टन रखा हुआ है. इसके बाद क्रमशः जापान, नीदरलैंड्स और भारत का नंबर आता है, जिनके पास सोने का भंडार सबसे ज्यादा है. भारत 10वें नंबर पर है, जिसके पास अनुमानित तौर पर लगभग 626 टन सोना है.

Gold Jwellery
इधर पाकिस्तान के प्रांत बलूचिस्तान की रेको डिक सोने की खदान में भारी सोना मिलने की संभावना दिख रही है. अफगानिस्तान और ईरान की सीमा के पास लगने वाली ये खदान दुनिया की पांचवीं बड़ी सोने और तांबे की खदान मानी जाती है. इससे सालाना लगभग 3.64 अरब डॉलर का फायदा पा’किस्ता’न को मिलता रहा है. सबसे बड़ी बात ये है कि सोने का ये भंडार अच्छा-खासा है. अनुमान है कि इससे अगले 50 सालों तक सोना निकल सकता है.

Gold

वहीं दूसरे देशों में सोने के भंडार खत्म होने को हैं. यूएस मनी रिजर्व ने वैश्विक कंपनी गोल्डमैन सैशके हवाले से ये बात कही। इस कंपनी का मानना है कि साल 2035 में दुनिया का पूरा सोना खत्म हो जाएगा. खदानें खाली हो चुकी होंगी. अभी से ये हाल दिखने लगा है, जब नए सोने की खोज नहीं हो पा रही है. साल 2018 में ही खनन कंपनियों ने सोने के घटने की शिकायत शुरू कर दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

block id 7185 site indiahindinews.com - Mob_300x600px
block id 7184 site indiahindinews.com - PC_700x400px