कांग्रेस पहुँची सुप्रीम को’र्ट, सचिन पायलट खे’मे के 19 विधायकों के ख़िला’फ़

राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के मुख्य सचेतक डॉ महेश जोशी ने सुप्रीम कोर्ट से सचिन पायलट के में के 19 विधायकों के संबंध में लगाई गई स्पेशल लीव पेटिशन को वापिस लेने की अर्जी दायर की है। बताया जा रहा है कि यह एसएलपी मेरे साथ अशोक गहलोत और सचिन पायलट के में में हुए राजनीतिक घमासान के दौरान सुप्रीम कोर्ट में मुख्य सचेतक द्वारा लगाई गई थी। यह एसएलपी कांग्रेस के सचिन पायलट समेत 19 विधायकों को लेकर थी। जिन नेताओं ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ब’गावत भ’रे तेवर दिखाए थे।

बताया जा रहा है कि यह याचिका हाईकोर्ट में 24 जुलाई 2020 के आदेश के खि’लाफ दायर की गई थी। जिसमें हाईकोर्ट ने राजस्थान विधानसभा की कार्यवाही पर रोक लगा दी थी। जिन्होंने व्हिप का उल्लंघन किया था। इसके बाद राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉक्टर महेश जोशी ने 19 विधायकों को नोटिस जारी किया था। इस नोटिस में विधानसभा अध्यक्ष ने अशोक गहलोत के खिलाफ ब’गावती तेवर दिखाने वाले विधायकों से पूछा था कि उनकी सदस्यता रद्द क्यों न की जाए ?


Sachin Pilot – Ashok Gehlot
बताया जाता है कि सचिन पायलट कि मैंने इस नोटिस वापिस लेने के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। हाईकोर्ट ने विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस पर स्टे भी लगाई थी। जिसे कांग्रेस ने संविधान का उल्लंघन मानते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दर्ज की थी ताकि सचिन पायलट के में पर कार्रवाई की जा सके। लेकिन अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमे के बीच पर ये मामला पहले सुलझ चुका था।

अब चूंकि अशोक गहलोत और पायलट ग्रुप में सांकेतिक तौर पर मामला पहले ही सुलझ चुका है तो कांग्रेस नहीं चाहती कि पायलट ग्रुप पर कोई कार्रवाई हो। इसलिए कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल इस याचिका को वापस लेने का फैसला लिया है।माना जा रहा है कि सचिन पायलट और अशोक गहलोत खेमे में सब ठीक चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

block id 7185 site indiahindinews.com - Mob_300x600px
block id 7184 site indiahindinews.com - PC_700x400px